यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के पिता का निधन दिल्ली के एम्स अस्पताल में

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट का 89 साल की उम्र में निधन हो गया। आनंद सिंह जी का पिछले कई दिनों से इलाज एम्स में चल रहा था और वो वेंटिलेटर पर रखा गया था। सोमवार सुबह आनंद जी ने अंतिम सांस ली यूपी सर्कार ने आनंद जी के निधन की पुष्टि की है। इस समय बहुत से लोगो ने शोक प्रकट किया है। पिछले महीने से वो डेल्ही के एम्स अस्पताल में भर्ती थे और डॉक्टर विनीत आहूजा की टीम उनका इलाज़ कर रही थी लेकिन रविवार को उनकी हालत अचानक बिगड़ गयी और सोमवार सुनाह 10 बजकर 44 मिनट पर उन्होंने अंतिम सांस ली।

मीटिंग के बीच में योगी जी को मिली खबर

जिस समय योगी जी के पिता का देहांत हुआ उस समय योगी जी लखनऊ में अपनी कोर टीम के साथ मीटिंग में थे। योगी जी टीम के साथ लॉकडाउन में आगे की कार्यवाही को लेकर चर्चा कर रहे थे। मीटिंग के बीच में ही उन्हें यह दुखद खबर बताई गयी जब वो टीम को आदेश दे रहे थे की कोटा से लाये गए बच्चों को होम क्‍वारंटीन किया जाये और उनके मोबाइल में आरोग्य सेतु एप इनस्टॉल किया जाये।

एम्स के गेस्ट्रो विभाग में चल रहा था इलाज़

89 साल के आनंद सिंह बिष्ट का इलाज डेली के एम्स रिपोर्ट्स के अनुसार उन्हें किडनी में परेशानी थी और वो डायलिसिस भी करवा रहे थे। पिछले एक महीने से उनका इलाज डेल्ही में चल रहा था लेकिन कल रविवार को उनकी हालत ख़राब होने लगी। डॉक्टर्स के जवाब देने के बाद उन्हें एयर एम्बुलेंस की सहायता से उनके पैत्रिक गाँव में भेजे जाने की तैयारी की जा रही थी। लेकिन इससे पहले ही उन्होंने अपनी अंतिम सांस लेते हुए इस दुनिया से विदाई ली।

योगी के पिता अब तक रहते थे गाँव में

एक तरह योगी जी बहुत पहले ही अपने घर को छोड़ कर आश्रम में रह रहे थे और मुख्यमंत्री बन जाने के बाद लखनऊ में शिफ्ट हो गए थे। लेकिन उनके पिता और परिवार के अन्य सदस्य अब भी उत्तराखंड में पौड़ी जिले के यमकेश्वर के पंचूर गांव में रहते है। देश के कई बड़े नेताओ और अन्य लोगो ने आनंद जी के निधन पर शोक व्यक्त किया है।

निष्कर्ष

योगी आदित्यनाथ को पिता की मृत्यु का समाचार मिलने के बाद भी उन्होंने मीटिंग पूरी की और लॉकडाउन पर कोर टीम के साथ मीटिंग में आगे की नीति पर विचार किया। इसे ही देश को पूर्ण रूप से समर्पित मुख्यमंत्री कहा जा सकता है।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*