अभिनन्दन देश का शेर वापस आ रहा है: दुनिया ने देखा भारत के जवान का हौसला

14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकवादी अटैक की वजह से भारत ने अपने 40 जवानों को खो दिया था। जवानों की शहादत पर पुरे देश में एक तरफ शोक था तो वही दूसरी तरफ शहीदों का बदला लेने की आग भड़क चुकी थी। पूरा देश एकजुट होकर शहीदों का बदला लेने की मांग कर रहा था। ऐसे में हमारे देश की सरकार ने देशवासियों से ये अपील की थी की बदला लिया जाएगा विश्वास रखिये।

कैसे फसे दुश्मन के चंगुल में अभिनन्दन

हमारे लेफ्टिनेंट विंग कमांडर अभिनन्दन वर्त्थमान ने पाकिस्तानी फाइटर फ-16 के भारतीय सीमा में घुसने के बाद जवाबी कार्यवाही में मार गिराया। लेकिन इस दौरान उनका अपना फाइटर प्लेन क्रेश हो गया और वो पाकिस्तान की सीमा में पराशुट लेके कूद गए जहा उन्हें पाकिस्तानी फौज ने पकड़ लिया। पाकिस्तान में अभिनन्दन ने अपनी बहादुरी का परिचय देते हुए बहुत ही साहस दिखाते हुए शांति बनाये राखी। उनके चेहरे पर किसी तरह का डर या परेशानी नहीं दिख रही थी। हमारे शेर ने दुश्मन के कब्जे में होते हुए भी अपने देश का सर गर्व से ऊँचा रखा।

जवाबी कार्यवाही में हिंदुस्तान ने लिया बदला

एंडियन एयर फ़ोर्स ने 26 फरवरी को सुबह 3:30 बजे POK में जेक पाकिस्तान के आतंकवादी जैश के ठिकानो को उदा दिया। इस हमले में 300 आतंकवादियों के मरे जाने की पुष्टि की गयी थी। ऐसे में दुनिया के सभी देशो ने हिंदुस्तान की इस कार्यवाही को सही ठहराया। लेकिन पाकिस्तान ने इसका बदला लेने के लिए अपने फाइटर प्लेन इंडिया की सरहद में भेजे लेकिन इंडियन एयरफोर्स ने उनकी ये कोशिश नाकामयाब कर दी। लेकिन इस सब के बिच हमारे विंग कमांडर अभिनन्दन दुश्मन के हाथ में फास गये।

पाकिस्तान की आम जनता और फौज का रवैया

जैसे ही अभिनन्दन पाकिस्तान में गिरे वह की आम जनता ने उनके साथ मार पीट की लेकिन पाकिस्तान की फौज ने उनके साथ मानवीय व्यव्हार किया और उन्हें प्राथमिक चिकित्सा उपलब्ध करवाई। इसके सतत ही उन्होंने अभिनन्दन का एक विडियो जाहिर किया जिसमे उन्होंने खुद बताया की वो सही है और उनके साथ कोई भी गलत व्यवहार नहीं किया गया। हमारे शेर ने पाकिस्तान में भी बहुत समझ और बहादुरी के साथ जवाब दिए और अपने देश की सुरक्षा को बचाए रखा।

पाकिस्तान आखिर क्यों वापस भेज रहा है अभिनन्दन को

UN संधि के चलते पाकिस्तान को अभिनन्दन को 8 दिन के अन्दर वापस भेजना ही होगा क्यूंकि इस संधि के अनुसार युद्ध में पकडे गए सैनिक को न तो नुकसान पहुचाया जा सकता है और न बंदी बना के रखा जा सकता है। पाकिस्तान एक तरह पुलवामा हमले की वजह से पहले ही दुनिया के बाकी देशो की नाराज़गी झेल रहा था ऐसे में अभिनन्दन को और ज्यादा दिन अपने पास रख कर और किरकिरी नहीं करवाना चाहता । आज अभिनन्दन को भारत को वापस सौंप दिया जाएगा। इस बात की पुष्टि कल पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संसद में कर दी थी।

पुरे देश को है इंतज़ार

आज अभिनन्दन के घर वापस आने पर सिर्फ उनके परिवार वाले ही नहीं बल्कि पूरा देश उनका इंतज़ार कर रहा है। अभिनन्दन ने अपने शौर्य और वीरता से जो दुश्मन की धरती पर प्रक्रम दिखाया है उसके चलते आज पूरा देश उनको सर आँखों पर बिठा रहा है। ऐसे में भारत के सपूत का भव्य स्वागत तो बनता ही है।

One thought on “अभिनन्दन देश का शेर वापस आ रहा है: दुनिया ने देखा भारत के जवान का हौसला”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *